Follow us:-
Admissions - 2024
Bhojpuri chhath song – सीमेज पटना का छठ गीत “माई खातिर” रिलीज, ग्लोबल वर्ल्ड में बिहार के युवाओं की नई छवि को दर्शाता यह गीत
  • By Cimage
  • 06-Nov-2023
  • 337

Bhojpuri chhath song – सीमेज पटना का छठ गीत “माई खातिर” रिलीज, ग्लोबल वर्ल्ड में बिहार के युवाओं की नई छवि को दर्शाता यह गीत

लोक आस्था का महापर्व छठ 17 नवंबर से शुरू हो रहा है। इसको लेकर 'सीमेज पटना' ने नया छठ गीत 'माई खातिर' रिलीज किया है। सोमवार को रिलीज हुए इस गीत को संगीत नाटक अवार्ड से सम्मानित रंजना झा ने अपनी खूबसूरत आवाज से सजाया है। यह गाना पुष्य मित्र और मोना झा के ऊपर फिल्माया गया है। गाने को नए जमाने के साथ ही हमारी पाश्चात्य संस्कृति के साथ पिरोया गया है। यह गीत जितना खूबसूरत है, उसी तरह इसके म्‍यूजिक वीडियो को देखने में मन रम जाता है, क्‍योंकि गाने के साथ एक कहानी चलती रहती है।

यह गीत उन युवाओं के लिए है, जो ग्लोबल वर्ल्ड में अपने प्रदेश और परिवार का नाम रोशन कर रहे हैं। साथ ही अपनी माटी से भी उनका प्रेम कम नहीं हुआ है।

इस छठ गीत में एक ऐसे बेटे की कहानी है, जो अपनी मां के लिए छठ करता है। उसकी मां बीमार है। बेटे की नौकरी हो जाए, इसलिए मां ने जो मन्नत मांगी थी उसे भी उसका बेटा पूरा कर रहा है। छठ गीत 'माई खातिर' के बारे में बात करते हुए 'सीमेज' के डायरेक्टर नीरज अग्रवाल कहते हैं, 'इस गाने को बनाने का मकसद यह था कि जब भी बिहारी युवाओं का जिक्र होता है, तब लोगों के मन में अक्सर बिहार के युवाओं की नकारात्मक छवि बनती है। अगर थोड़ी सी सकारात्मक छवि होती भी है तो वह इस आईएएस - आईपीएस को लेकर होती है। लेकिन अब दौर बदल गया है बिहार के युवा  "सीमेज (CIMAGE)"  जैसे संस्थानों से पढ़ाई कर वैश्विक परिपेक्ष में अपनी धाक जम रहे हैं। स्टार्टअप कर रहे हैं। उद्योग लगा रहे हैं। एंटरप्रेन्योर बना रहे हैं। मल्टीनेशनल कंपनियों में काम कर रहे हैं।'

वह आगे कहते हैं कि इस छठ गीत में माटी की सुगंध है यही वजह है कि जब छठ पर्व का माहौल आता है, तब उनके मन में इस महापर्व के प्रति यादें ताजा हो जाती हैं और मन गांव लौटने को बेकरार हो जाता है। इस गाने में जहां मां का वात्सल्य और अपनी संस्कृति से जुड़ाव का भाव देखने को मिलता है, वहीं सच्ची मित्रता का भी बोध इस गीत में झलकता है।

गौरतलब है कि छठ गीत “माई खातिर” को सिमेज पटना के ऑफिसियल यूट्यूब से रिलीज किया गया है. इसके निर्देशक अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह में चर्चित फिल्मकार प्रतीक शर्मा हैं, जबकि राष्ट्रपति से सम्मानित शास्त्रीय संगीत और लोकगायिका रंजना झा ने इसे गाया है. गीतकार टीवी की मशहूर कलाकार अस्मिता शर्मा हैं. इस गाने में पुष्य मित्र और मोना झा के अलावा आशीष मिश्रा और अभिषेक भी मुख्य भूमिका में नजर आए हैं. जबकि गेस्ट एपियरेंस में खुद नीरज अग्रवाल, नीरज पोद्दार और मेघा अग्रवाल हैं.

Song Lyrics : पियर पियर धोतिया रंगाईब पियर कुर्ता के रंग गंगा जी में डुबकी लगा के करबई छठी के बरत, देबई सुरूज के अरग आई तक माई हमर कईनी हमरा खातिर बरत, सबके खातिर बरत माई के मान हम उठाईब दियऊ हमरो समांग, करबई छठी के बरत माथ पे दउरा उठाईब, संगे फलवा के भार, संगे ठेकुआ के भार सुनी ल अरज छठी मैया कई द हमके बेड़ा पार, कई द सबके बेड़ा पार गाय के दुधवा मंगाईब देबई भोर के अरग, देवई साँझ के अरग सुरूज देव मनसा पुरईह रखीह माई के निरोग, रखीह सबके  निरोग रखीह माई के निरोग, रखीह सबके  निरोग

Song Writer : Asmita Sharma Singer/Composer : Ranjana jha Director : Prateek Sharma Producer : Neeraj Agrawal Banner : Vijayam Educational Trust

Why Join CIMAGE?